बुद्धिमान हंस – पंचतंत्र की कहानियाँ

October 19, 2018 admin 0

एक बहुत बड़ा विशाल पेड़ था। उस पर बीसीयों हंस रहते थे। उनमें एक बहुत सयाना हंस था, बुद्धिमान और बहुत दूरदर्शी। सब उसका आदर करते ‘ताऊ’ कहकर बुलाते थे। एक दिन उसने एक नन्ही-सी बेल को पेड़ के तने पर बहुत नीचे लिपटते पाया। ताऊ ने दूसरे हंसों को बुलाकर कहा, देखो, इस बेल को नष्ट कर दो। एक दिन यह बेल हम सबको मौत के मुंह में ले जाएगी। एक युवा हंस हंसते हुए बोला, ताऊ, यह छोटी-सी बेल हमें कैसे मौत के मुंह में ले जाएगी? सयाने ….Read More

आम आदमी का अनुभव , संसार में सुख भी है और दु:ख भी है।

May 10, 2018 admin 0

संसार सन्मात्र(सत्ता मात्र)है। संसार भला है या बुरा है, सुखद है या दु:खद,सत्य है या मिथ्या, नाशवान् है या शाश्वत आदि-ये सब व्याख्याएं हैं। व्याख्याएं व्याख्याता और उसके अनुभव पर आश्रित होने के कारण भिन्न भिन्न होतीं हैं। एक ही वस्तु के सम्बन्ध में अपनी अपनी प्रकृति के अनुसार व्यक्तियों के अनुभव भिन्न भिन्न होते हैं। संसार दु:खद है किंवा सुखद-इस विषय में भी तीन प्रकार के अनुभव देखने में आते हैं:- १-आम आदमी का अनुभव संसार में सुख भी है और दु:ख भी है। बुद्धिर्ज्ञानमसम्मोह:क्षमा सत्यं दम:शम:। सुखं दु:खं— ….Read More

भक्ति में अहंकार का प्रश्न ही नहीं-वहां तो समर्पण है

May 8, 2018 admin 0

अहं और अहंकार आम बोलचाल में इन दोनों शब्दों को प्रायः एक ही अर्थ में प्रयोग किया जाता है जैसे-उसके ऐसे व्यवहार से मेरे अहं(अहंकार, शिष्ट भाषा में स्वाभिमान)को बहुत चोट पहुंची है।परन्तु दर्शन में इन दोनों शब्दों के अर्थ अलग अलग हैं। अहं शब्द अस्तित्व का बोधक है।अस्तित्व जो सर्व-व्यापी है, अस्तित्व जो निर्विकार है।सोsहम्,शिवोsहम् जैसे महावाक्यों में अहं शब्द का प्रयोग इसी अर्थ में होता है।परन्तु शुद्ध अस्तित्व विना नाम-रूप के व्यक्त नहीं होता, इसलिए हर व्यक्ति अपने नामरूपात्मक देह के लिए भी अहं का प्रयोग करता है ….Read More

God enables us to ride the winds of the storm that bring failure, and disappointment

March 6, 2018 admin 0

Did you know that an eagle knows when a storm is approaching long before it breaks? The eagle will fly to some high spot and wait for the winds to come. When the storm hits, it sets its wings so that the wind will pick it up, lifting it above the storm While the storm rages below, the eagle is soaring above it The eagle does not escape the storm. It simply uses the storm to lift it higher! It rises on the winds that bring the storm. When the ….Read More

Life is an Echo- A mountain Story

March 6, 2018 admin 0

A son and his father were walking in the mountains. Suddenly,his son falls, hurts himself and screams: “AAAhhhhhhhhhhh!!!” To his surprise, hears the voice repeating, somewhere in the mountain: “AAAhhhhhhhhhhh!!!” Curious, he yells: “Who are you?” He receives the answer: “Who are you?” Angered at the response, he screams: “Coward!” He receives the answer: “Coward!” He looks to his father and asks: “What’s going on?” The father smiles and says: “My son, pay attention.” And then he screams to the mountain: “I admire you!” The voice answers: “I admire you!” ….Read More